International Girl Child Day - अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस 11/10/2022 Images - Festival Poster | Messages | Shayari

Latest Post

Saturday, 8 October 2022

International Girl Child Day - अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस 11/10/2022 Images

International Girl Child Day - अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस 11/10/2022 Images Images Free Download 


International Day of the Girl Child is an annual and internationally recognized observance on October 11 that empowers girls and amplifies their voices. Like its adult version, International Women’s Day, celebrated on March 8, International Day of the Girl Child acknowledges the importance, power, and potential of adolescent girls by encouraging the opening up of more opportunities for them. At the same time, this day is designated to eliminate gender-based challenges that little girls face around the world, including child marriages, poor learning opportunities, violence, and discrimination. To eliminate such discriminations Scholaroo has resources for scholarships from around the world for young girls to support their future.


The theme for this year’s aptly named “Day of the Girl Child” as it is also known, is “Digital generation. Our generation.” It provides a platform for the global community to understand the disadvantages girls face online. 2.2 billion people under the age of 25 do not have internet access, with the majority being girls. This day seeks to celebrate the lot of girls as compared to the role of boys in many cultures, where the male of our species has better access to education and opportunities by virtue of being male. One out of four girls is unemployed, uneducated, or untrained as compared to one in every ten boys, and these are worldwide statistical records. Although we have reached a point that we recognize this day as International Girls’ Day, much still needs to be done to improve lives for girls.


HISTORY OF INTERNATIONAL DAY OF THE GIRL CHILD

Since December 19, 2011, this day has been celebrated as an “International Day of the Girl Child” or just “International Girls’ Day”. In the UN General Assembly, a resolution was passed which declared October 11 as a day to honor the girls.  


Calling out for the rights of women and girls was first achieved by the Beijing Declaration in 1995 at the World Conference on Women in Beijing. In the history of the world, it was the first-ever blueprint to have identified the need for addressing issues faced by adolescent girls all around the world.


International Day of the Girl Child began as part of the international, non-governmental organization Plan International’s campaign “Because I am a Girl.” Plan International is a non-government organization which works in around 70 countries worldwide. It spearheaded the campaign in 2007 which was aimed to spread awareness on the need of nurturing girls globally and especially in developing countries where conditions are poorer. The campaign was designed to nurture girls — especially in developing countries, promote their rights, and bring them out of poverty. International Day of the Girl Child was born as an idea during the campaign and grew into practice when its representatives requested the Canadian federal government to seek a coalition of supporters. Eventually, the United Nations became involved.


In the 1995 World Conference on Women in Beijing, countries adopted an action plan to support women rights and to safeguard the future of young girls internationally. With the initiative of Plan International, and other bodies also raising their voice in support of girls and women protection, it gained greater traction. It was then formally proposed by Canada to be passed as a resolution in the United Nations General Assembly. Consequently, on December 19, 2011, the U.N. General Assembly successfully adopted the resolution of recognizing October 11, 2012, as the inaugural day of International Day of the Girl Child, which was specifically centered around the grave issue of child marriages. Each year, this day is observed with a unique theme. The inaugural theme was ending child marriage.  Since then, this day has been celebrated around the world and different initiatives for girl and women empowerment have gained momentum, and each year’s theme highlights issues girls face. 


Its verdict beautifully describes the true empowerment of the girl child who’s as critical to economic growth as boys. It recognizes that the meaningful participation of girls in decisions that affect their lives is the key to break the cycle of discrimination and violence and empower young ladies to become inspirited, free women of tomorrow.


International Girl Child Day Essay in Hindi

अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पूरे विश्व में प्रतिवर्ष 11 अक्टूबर को मनाया उत्साह के साथ मनाया जाता है। इस विशेष दिन को मनाए जाने का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाना और उन्हें समाज में सम्मान और सुरक्षा का एहसास कराना है। बताते चलें कि, इस विशेष दिन को सर्वप्रथम एक निजी संस्था के द्वारा मनाए जाने का क्रम शुरू किया गया था। इसकी बढ़ती लोकप्रियता के साथ धीरे-धीरे इसे पूरे विश्व में सम्मान मिलने लगा और 2008 से इसे राष्ट्रीय संघ के द्वारा 11 अक्टूबर का दिन चुना गया। साथ ही 11 अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस का विशेष दिन घोषित कर दिया गया। अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के मौके पर विश्व के 50 से अधिक देशों में बालिकाओं को सम्मान और आत्म निर्भर बनाने की विभिन्न प्रकार की विशेष मुहिम चलाई जाती है। यदि आप अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर निबंध या Girls Child Day Essay in Hindi इस तरह की कोई अन्य जानकारी लोगों के साथ साझा करना चाहते है यह जानना चाहते हैं तो नीचे दिए गए निर्देशों को पढ़ें।


भारतवर्ष के विभिन्न शैक्षणिक संस्थाओं में अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर निबंध प्रतियोगिता या भाषण प्रतियोगिता आयोजित करवाई जाती है। यदि इस प्रकार के किसी प्रतियोगिता में आपकों अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर निबंध लिखने का मौका दिया गया है तो नीचे दिए गए निर्देशों का आदेश अनुसार पालन करें और बेहतरीन निबंध की सूची में से एक बेहद ही आसान और जबरजस्त निबंध प्राप्त करें।


International Girl Child Day 2022:- 

पूरे विश्व में भले की वर्तमान समय में लड़कियों के जन्म और उनके काम करने को लेकर आधुनिकता बड़ी है मगर वर्तमान समय में भी बहुत समाज में लड़कियों को वह सम्मानित दर्जा नहीं मिल पाया है जिसकी वह हकदार है। एक बालिका के जीवन में आने वाली चुनौती और परेशानियों के बारे में सभी को जागरुक करने के लिए अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस 2022 हर साल 11 अक्टूबर को मनाया जाता है। आपको यह भी मालूम होना चाहिए कि भारत में हर साल शिशु दिवस मनाया जाता था जिसे 2008 से बदलकर राष्ट्रीय बालिका दिवस कर दिया गया है भारत में बालिका दिवस प्रत्येक साल 24 जनवरी को मनाया जाता है।


हर साल की तरह 11 अक्टूबर 2022 को अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस विभिन्न देशों में मनाया जायेगा। इस दिन विभिन्न प्रकार के समारोह आयोजित किए जाते है ताकि बालिकाओं के शिक्षा जन्म और नौकरी की जागरूकता को विश्व भर में फैलाया जा सके और उनके जीवन को सरल बनाया जा सके। आज इस लेख में हम अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस 2022 से जुड़ी कुछ आवश्यक जानकारियों को सरल शब्दों में साझा करने वाले हैं। 


International Girl Child Day 2022

11 अक्टूबर को पूरे विश्व भर में विभिन्न देशों के द्वारा अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जाता है। इस धन अलग अलग राष्ट्र एक साथ मिलकर विभिन्न प्रकार के समारोह को आयोजित करते है और विश्व की सभी स्त्री को सम्मान देने के लिए प्रेरित करते हैं। 


इस दिन अलग अलग राष्ट्र के द्वारा विभिन्न प्रकार के समारोह को आयोजित किया जाता है स्त्री के जीवन में आने वाली समस्या के बारे में बताया जाता है। बालिकाओं को जीवन में किस प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ता है उसके बारे में हर किसी को प्रेरित किया जाता है। अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस हर साल विश्व के 50 से अधिक देशों के द्वारा आयोजित करवाया जाता है।


अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस कब मनाया जाता है?

अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस हर साल 11 अक्टूबर को मनाया जाता है। सबसे पहले यह एक गैर सरकारी संगठन के द्वारा शुरू किया गया था और उनके मुहिम का नाम “क्योंकि मैं लड़की हूं” था। इस मुहिम को 2009 में शुरू किया गया था बड़ी तेजी से देश भर में प्रचलित होने के बाद इस मुहिम में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सम्मान हासिल किया।


2011 में कनाडा सरकार के द्वारा इस मुहिम को राष्ट्र संघ में प्रस्तुत किया और 19 दिसंबर 2011 को पूरी दुनिया में सभी लोगों को यह समझाने के लिए की स्त्री और पुरुष में लैंगिक असमानता के अलावा और किसी भी प्रकार की और समानता नहीं है, के लिए अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस मनाने की तैयारी शुरू की गई और 11 अक्टूबर 2011 से यह मुहिम विश्व के 50 से अधिक देशों में शुरू किया गया। 


अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस क्यों मनाया जाता है?

अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस हर साल विश्व की सभी स्त्रियों को पुरुष के बराबर की समानता और समाज में प्रतिष्ठा हासिल करने के लिए शुरू किया गया। अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस हर साल स्त्री और पुरुष की समानता को दर्शाता है और स्त्री के जीवन में आने वाली कठिनाइयों को सबके समक्ष रखते है ताकि उनको सम्मान और उसे उनके बलिदान के लिए उन्हें वह हक मिल सके जिसके वह हकदार है। 


हर साल अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस का त्यौहार सभी स्त्रियों को उनके हक और सम्मान की लड़ाई सबके समक्ष रखने के लिए विभिन्न देशों के द्वारा मनाया जाता है। 


अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस कैसे मनाया जाता है?

अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस का त्यौहार हर साल बड़े ही हर्षोल्लास के साथ 50 से अधिक देशों में विभिन्न प्रकार के समारोह आयोजित करके मनाया जाता है। वर्तमान समय इंटरनेट युग का चल रहा है इस वजह से लोग इंटरनेट पर बालिका के जीवन में आने वाली सभी प्रकार की परेशानियों को दर्शाने के लिए विभिन्न प्रकार के वीडियो और इंटरनेट के Meme के जरिए लोगों तक जानकारी पहुंचाते हैं। 


अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस का त्यौहार मुख्य रूप से सभी स्त्रियों को उनका हक और पुरुष के बराबर का सम्मान समाज में दिलाने के लिए मनाया जाता है। अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस 11 अक्टूबर को पूरे विश्व भर में स्त्री सम्मान को दर्शाने के लिए मनाया जाता है। 

 



International Girl Child Day




अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस




International Girl Child Day Hindi Quotes




International Girl Child Day 2022





International Girl Child Day Whatsapp Status




International Girl Child Day English Quotes





This All Image With Out Logo 


Your download link will appear in 60 seconds.

Conclusion:- I Provide Of You In This Article International Girl Child Day - अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस 11/10/2022 Images Download. Tell Us How You Liked This Article By Commenting.

निष्कर्ष

आज इस लेख में अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस (International Day of Girl Child) बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस विश्व भर में अलग-अलग प्रकार के समारोह आयोजित कर के स्त्री को सम्मान देने के लिए मनाया जाता है। अगर हमारे द्वारा साझा की गई जानकारियों को पढ़ने के बाद आप अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के बारे में समझ पाए हैं तो इसे अपने मित्रों के साथ साझा करें साथ ही अपने सुझाव और विचार कमेंट में बताना ना भूलें।


No comments:

Post a Comment