नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारे वेबसाइट पे, आज हम आपके लिए महाभारत से जुड़े कुछ ऐसे तथ्यों को लेकर आए हैं, जिनसे यह सिद्ध होता है कि महाभारत कोई काल्पनिक घटना नहीं बल्कि एक वास्तविकता थी |

1: राजवंश:
महाभारत धर्मग्रन्थ में वंशावली को राजा मनु से शुरू किया गया है | इस वंश के पचास से भी अधिक शासकों का वर्णन महाभारत में किया गया है | यदि ये एक कल्पना होती तो लेखक पूरी वंशावली के बारे में न बताकर भी अपनी बातों को शुरू कर सकता था | क्यों कोई 50 से भी अधिक वंशावली का वर्णन किसी काल्पनिक महाकाव्य में करना चाहेगा | इससे यह सिद्ध होता है कि ये एक वास्तविकता थी |

2: द्वारका नगरी:
महाभारत युद्ध समाप्त होने के लगभग 36 वर्षों के बाद भगवान कृष्ण की द्वारका नगरी जलमग्न हो गयी थी | पुरातत्व शास्त्रियों ने गुजरात से लगे हुए समुद्र से लेकर अरब सागर तक एक ऐसे प्राचीन नगर और सभ्यता को खोज निकाला है, जिसे महाभारत काल का ही माना जा रहा है | यहाँ की वास्तुकला से इस बात को और भी अधिक बल मिलता है |

3: कलियुग:
श्रीमद भगवत गीता में भगवान कृष्ण ने कलियुग का वर्णन भी विस्तारपूर्वक किया है | हैरानी की बात यह है कि उनके द्वारा बताई गयी समस्त बातें आज के समय में भी बिल्कुल सटीक बैठती हैं |

4: वर्तमान शहर:
आज भी भारत में 35 से अधिक ऐसे नगर हैं, जिनका उल्लेख महाभारत में किया गया है | इसमें हस्तिनापुर जो आज मेरठ के नाम से प्रचिलित है, अंगप्रदेश जो आज का गोंडा और बहराइच माना जाता है एवं इन्द्रप्रस्थ जो आज भारत की राजधानी दिल्ली है |

उम्मीद है दोस्तो आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी अच्छी लगी तो इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा लाइक और शेयर करें. और आगे भी ऐसी ही ज्ञानवर्धक जानकारी पाने के लिए हमारे Facebook Page को like करना ना भुले.