मोहल्ले की मोहब्बत का भी, अजीब फ़साना है,
चार घर की दूरी है, और बीच मे सारा जमाना है !