Whatsapp Status - Shayari - Tips Tricks

युद्ध में अर्जुन की मृत्यु के बाद उन्हें दोबारा जीवित किया उनकी इस पत्नी ने - Hindi Story

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारे वेबसाइट पे,  महाभारत में अर्जुन को एक भगवान कृष्ण के परम मित्र और एक कुशल धनुर्धारी के रूप में प्रस्तुत किया गया है | अभिमन्यु के अलावा अर्जुन के 3 और पुत्र भी थे | इनमें से एक पुत्र ने महाभारत युद्ध में अर्जुन को हराकर उनका वध कर दिया था |

द्रौपदी के अलावा अर्जुन की 3 अन्य पत्नियां थीं | अर्जुन की चौथी पत्नी का नाम "उलूपी" था | उलूपी एक जलपरी थी जिसने अर्जुन को वरदान दिया था कि वे बिना किसी हानि के जल के भीतर निवास कर सकते हैं | उन्होंने चित्रांगदा और अर्जुन के पुत्र "वभ्रुवाहन" को युद्ध की शिक्षा दी थी |

अर्जुन की तीसरी पत्नी का नाम "चित्रांगदा" था | चित्रांगदा और अर्जुन की संतान का नाम वभ्रुवाहन था | वभ्रुवाहन ने महाभारत के युद्ध में कौरवों की ओर से युद्ध किया था | वभ्रुवाहन एक महापराक्रमी योद्धा था और उसने युद्ध में अर्जुन को हराकर उनको मार दिया था |

युद्ध में अर्जुन की पत्नी उलूपी ने उन्हें पुनः जीवन दान दिया था | वभ्रुवाहन को यह बात पता नहीं थी कि अर्जुन उनके पिता हैं | उलूपी ने अर्जुन को दोबारा जीवित करने के बाद पुत्र और पिता की भेंट कराई थी

उम्मीद है दोस्तो आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी अच्छी लगी तो इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा लाइक और शेयर करें. और आगे भी ऐसी ही ज्ञानवर्धक जानकारी पाने के लिए हमारे Facebook Page को like करना ना भुले.



Post a comment

0 Comments